can we eat rice during periods

क्या हम पीरियड्स के दौरान चावल खा सकते हैं? सच्चाई का पता चला

कई महिलाओं के लिए मासिक धर्म एक चुनौतीपूर्ण समय हो सकता है। मासिक धर्म चक्र के दौरान होने वाले हार्मोनल परिवर्तन से ऐंठन, सूजन, थकान और मिजाज सहित कई शारीरिक और भावनात्मक लक्षण हो सकते हैं। जबकि कई महिलाएं इन लक्षणों को कम करने के लिए ओवर-द-काउंटर दवाओं की ओर रुख करती हैं, ऐसे कई प्रकार के प्राकृतिक उपचार भी हैं जो मदद कर सकते हैं।

इस संबंध में उठने वाले सबसे लोकप्रिय प्रश्नों में से एक यह है कि क्या पीरियड्स के दौरान चावल खाना सुरक्षित है। दुनिया के कई हिस्सों में चावल एक मुख्य भोजन है, और यह कार्बोहाइड्रेट का एक महत्वपूर्ण स्रोत है, जो ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक हैं। हालांकि, इस बारे में कई मिथक और भ्रांतियां हैं कि मासिक धर्म के दौरान चावल खाना सुरक्षित है या फायदेमंद।

पीरियड्स के दौरान चावल खाने के पोषण संबंधी फायदे

इस लेख में हम इस सच्चाई का पता लगाएंगे कि क्या हम पीरियड्स के दौरान चावल खा सकते हैं। हम चावल के पोषण मूल्य की जांच करेंगे और मासिक धर्म के दौरान यह शरीर को कैसे लाभ पहुंचा सकते हैं।

हम चावल और मासिक धर्म के बारे में आम मिथकों को भी दूर करेंगे और मासिक धर्म के दौरान चावल खाने के संभावित लाभों और जोखिमों पर चर्चा करेंगे। इस लेख के अंत तक, आपको इस बात की बेहतर समझ हो जाएगी कि मासिक धर्म के दौरान चावल एक सुरक्षित और स्वस्थ भोजन विकल्प है या नहीं।

यह भी पढ़ें : हल्दी वाले दूध के फायदे

क्या हम मासिक धर्म के दौरान चावल खा सकते हैं?

यह एक ऐसा सवाल है जो कई महिलाएं अपने मासिक धर्म के दौरान खुद से पूछती हैं- क्या हम अपने मासिक धर्म के दौरान चावल खा सकते हैं? उत्तर है, हाँ! इस समय के दौरान चावल आपके आहार में एक स्वस्थ और पौष्टिक जोड़ हो सकता है।

वास्तव में, चावल पीरियड्स के दौरान कई तरह के लाभ प्रदान कर सकता है। एक तो यह कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्रोत है, जिसकी शरीर को ऊर्जा के लिए जरूरत होती है। माहवारी के दौरान, महिलाओं को थकान या कम ऊर्जा के स्तर का अनुभव हो सकता है, इसलिए निरंतर ऊर्जा प्रदान करने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन सहायक हो सकता है।

तो, आइए मासिक धर्म के दौरान चावल खाने के पोषण मूल्य और संभावित लाभों में गोता लगाएँ, और यह कैसे आपके शरीर और दिमाग को सहारा देने में मदद कर सकता है।

चावल का पोषण मूल्य

चावल एक अत्यधिक पौष्टिक भोजन है जो दुनिया के कई हिस्सों में एक प्रधान है। यह कार्बोहाइड्रेट का एक अच्छा स्रोत है, जो ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक है। इसके अलावा, चावल विटामिन और खनिजों का भी एक अच्छा स्रोत है जो समग्र स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं।

एक कप पके हुए चावल (लगभग 195 ग्राम) में निम्नलिखित पोषक तत्व होते हैं:

  • कैलोरी: 204
  • कार्बोहाइड्रेट: 44.5 ग्राम
  • प्रोटीन: 4.2 ग्राम
  • वसा: 0.4 ग्राम
  • फाइबर: 0.6 ग्राम
  • विटामिन बी1 (थियामिन): 0.2 मिलीग्राम
  • विटामिन बी3 (नियासिन): 2.1 मिलीग्राम
  • विटामिन बी 6: 0.2 मिलीग्राम
  • फोलेट: 25.6 एमसीजी
  • लोहा: 0.8 मिलीग्राम
  • मैग्नीशियम: 19.1 मिलीग्राम
  • फास्फोरस: 68.5 मिलीग्राम
  • पोटेशियम: 55.4 मिलीग्राम
  • जिंक: 0.6 मिलीग्राम

कार्बोहाइड्रेट चावल में पाया जाने वाला प्राथमिक मैक्रोन्यूट्रिएंट है, और ये शरीर के लिए ऊर्जा का एक महत्वपूर्ण स्रोत हैं। चावल में कार्बोहाइड्रेट मुख्य रूप से स्टार्च के रूप में होता है, जो पाचन के दौरान ग्लूकोज में टूट जाता है। ग्लूकोज तब शरीर द्वारा ऊर्जा उत्पन्न करने के लिए उपयोग किया जाता है।

कार्बोहाइड्रेट के अलावा, चावल में विभिन्न प्रकार के विटामिन और खनिज भी होते हैं जो समग्र स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण होते हैं। उदाहरण के लिए, विटामिन बी1 (थियामिन), कार्बोहाइड्रेट के चयापचय के लिए आवश्यक है, जबकि विटामिन बी3 (नियासिन) त्वचा के स्वास्थ्य और ऊर्जा उत्पादन के लिए महत्वपूर्ण है।

आयरन लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन के लिए आवश्यक है, जबकि मैग्नीशियम हड्डियों के स्वास्थ्य और तंत्रिका कार्य के लिए महत्वपूर्ण है। फास्फोरस मजबूत हड्डियों और दांतों के निर्माण के लिए आवश्यक है, और पोटेशियम रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है।

पीरियड्स के दौरान चावल खाने के फायदे

हमें यह समझना चाहिए कि चावल एक अत्यधिक पौष्टिक भोजन है जो शरीर को मासिक धर्म के दौरान ठीक से काम करने के लिए आवश्यक ऊर्जा और पोषक तत्व प्रदान कर सकता है।

आइए जानते हैं पीरियड्स के दौरान चावल खाने से होने वाले संभावित फायदों के बारे में।

पीरियड्स के दौरान चावल खाने के फायदे

पीरियड्स के दौरान चावल खाने से शरीर को कई तरह के लाभ मिल सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  1. ऊर्जा प्रदान करता है: चावल कार्बोहाइड्रेट का एक अच्छा स्रोत है, जो ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक है। पीरियड्स के दौरान होने वाले शारीरिक और हार्मोनल परिवर्तनों के कारण शरीर को सामान्य से अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है। चावल खाने से शरीर को इस दौरान ठीक से काम करने के लिए आवश्यक ऊर्जा प्रदान करने में मदद मिल सकती है।

  2. मासिक धर्म की ऐंठन को कम करता है: मासिक धर्म में ऐंठन या पीरियड का दर्द मासिक धर्म का एक सामान्य लक्षण है जो असहज और दर्दनाक हो सकता है। चावल एक कम वसा वाला, कम कोलेस्ट्रॉल वाला भोजन है जो पचाने में आसान होता है, जो मासिक धर्म के दौरान सूजन और परेशानी को कम करने में मदद कर सकता है। इसके अतिरिक्त, चावल मैग्नीशियम का एक अच्छा स्रोत है, जो मासिक धर्म में ऐंठन की गंभीरता को कम करने में मदद करता है।

  3. रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करता है: चावल खाने से मासिक धर्म के दौरान रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। विशेष रूप से ब्राउन राइस फाइबर का एक अच्छा स्रोत है, जो कार्बोहाइड्रेट के पाचन को धीमा कर देता है और रक्त शर्करा के स्तर में तेजी से वृद्धि को रोकने में मदद करता है। यह मासिक धर्म के दौरान होने वाले मिजाज और थकान को रोकने में मदद कर सकता है।

  4. मूड बूस्ट करता है: चावल खाने से पीरियड्स के दौरान मूड बूस्ट करने में मदद मिल सकती है। चावल ट्रिप्टोफैन का एक अच्छा स्रोत है, एक एमिनो एसिड जो सेरोटोनिन के उत्पादन के लिए महत्वपूर्ण है, एक न्यूरोट्रांसमीटर जो मूड को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसके अतिरिक्त, चावल बी विटामिन का एक अच्छा स्रोत है, जो मस्तिष्क के कार्य के लिए महत्वपूर्ण हैं और अवसाद और चिंता के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं।

  5. पाचन में मदद करता है: चावल कम वसा वाला, कम कोलेस्ट्रॉल वाला भोजन है जो पचाने में आसान होता है। यह मासिक धर्म के दौरान होने वाली सूजन और कब्ज जैसी पाचन संबंधी समस्याओं को कम करने में मदद कर सकता है।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि जिस प्रकार के चावल खाए जाते हैं, वे संभावित लाभों को प्रभावित कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, ब्राउन राइस सफेद चावल की तुलना में अधिक फाइबर सामग्री के कारण एक स्वस्थ विकल्प है। इसके अतिरिक्त, चावल को कम मात्रा में और संतुलित आहार के हिस्से के रूप में खाना महत्वपूर्ण है जिसमें विभिन्न पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ शामिल हैं।

पीरियड्स के दौरान चावल खाने के बारे में आम मिथक

पीरियड्स के दौरान चावल खाने के बारे में आम मिथक

पीरियड्स के दौरान चावल खाने को लेकर कई मिथक और भ्रांतियां हैं। कुछ सबसे आम मिथकों में शामिल हैं:

मिथक # 1: पीरियड्स के दौरान चावल खाने से आपका वजन बढ़ेगा यह एक आम मिथक है जो सच नहीं है। चावल एक कम वसा वाला, कम कैलोरी वाला भोजन है जो कार्बोहाइड्रेट का एक महत्वपूर्ण स्रोत है, जो ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक है। हालांकि यह सच है कि बहुत अधिक कैलोरी खाने से वजन बढ़ सकता है, लेकिन पीरियड्स के दौरान कम मात्रा में चावल खाने से वजन बढ़ने की संभावना नहीं होती है।

मिथक #2: पीरियड्स के दौरान चावल खाने से आपके मासिक धर्म में ऐंठन और भी बदतर हो जाएगी, यह मिथक भी सच नहीं है। वास्तव में, चावल खाने से शरीर को ठीक से काम करने के लिए आवश्यक ऊर्जा प्रदान करके मासिक धर्म की ऐंठन को कम करने में मदद मिल सकती है। इसके अतिरिक्त, चावल एक कम वसा वाला, कम कोलेस्ट्रॉल वाला भोजन है जो पचाने में आसान होता है, जो मासिक धर्म के दौरान सूजन और परेशानी को कम करने में मदद कर सकता है।

मिथक #3: पीरियड्स के दौरान चावल खाने से पेट फूलता है और वॉटर रिटेंशन होता है। यह मिथक आंशिक रूप से सच है, लेकिन यह खाने वाले चावल के प्रकार पर निर्भर करता है। सफेद चावल, जो अत्यधिक संसाधित और फाइबर में कम होता है, सूजन और जल प्रतिधारण का कारण बन सकता है क्योंकि यह जल्दी पच जाता है और रक्त शर्करा के स्तर में तेजी से वृद्धि कर सकता है। हालांकि, ब्राउन राइस, जो फाइबर में अधिक होता है और अधिक धीरे-धीरे पचता है, सूजन और जल प्रतिधारण की संभावना कम होती है।

मिथक #4: पीरियड्स के दौरान चावल खाने से आपका मासिक धर्म प्रवाह बढ़ जाएगा यह मिथक सच नहीं है। पीरियड्स के दौरान चावल खाने से मासिक धर्म प्रवाह पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। मासिक धर्म प्रवाह की मात्रा विभिन्न कारकों द्वारा निर्धारित की जाती है, जिसमें हार्मोनल उतार-चढ़ाव और गर्भाशय के अस्तर की मोटाई शामिल है।

चावल एक पौष्टिक भोजन है जो मासिक धर्म के दौरान शरीर को ठीक से काम करने के लिए आवश्यक ऊर्जा और पोषक तत्व प्रदान कर सकता है।

गोपैड फ्री पीरियड पैंटी

पीरियड्स के दौरान चावल खाने के जोखिम

जहां पीरियड्स के दौरान चावल खाने के कई संभावित फायदे हैं, वहीं इसके कुछ जोखिम भी हैं जिनके बारे में पता होना चाहिए। इसमे शामिल है:

1. हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स: सफेद चावल, जो अत्यधिक संसाधित और फाइबर में कम होता है, में उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है। इसका मतलब है कि यह रक्त शर्करा के स्तर में तेजी से वृद्धि का कारण बन सकता है, जिससे मिजाज, थकान और अन्य लक्षण हो सकते हैं। दूसरी ओर, ब्राउन राइस का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है और यह उन लोगों के लिए बेहतर विकल्प है जो अपने ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करना चाहते हैं।

2. आर्सेनिक के साथ संदूषण: चावल में थोड़ी मात्रा में आर्सेनिक, एक जहरीला पदार्थ होता है जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। जबकि चावल में आर्सेनिक के स्तर को आम तौर पर सुरक्षित माना जाता है, संभावित जोखिमों से अवगत होना महत्वपूर्ण है। बड़ी मात्रा में चावल खाने या नियमित रूप से चावल के उत्पादों का सेवन करने से आर्सेनिक के संपर्क में आने का खतरा बढ़ सकता है।

3. एलर्जी और असहिष्णुता: कुछ लोगों को चावल या कुछ प्रकार के चावल से एलर्जी या असहिष्णुता हो सकती है। चावल एलर्जी या असहिष्णुता के लक्षणों में पाचन संबंधी समस्याएं, त्वचा पर चकत्ते और सांस लेने में कठिनाई शामिल हो सकती है। यदि आप चावल खाने के बाद इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं, तो स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से बात करना महत्वपूर्ण है।

4. पोषक तत्वों की कमी चावल कार्बोहाइड्रेट और कुछ अन्य पोषक तत्वों का एक अच्छा स्रोत है, लेकिन यह पोषण का पूर्ण स्रोत नहीं है। बड़ी मात्रा में चावल खाने और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों की उपेक्षा करने से विटामिन, खनिज और अन्य आवश्यक पोषक तत्वों की कमी हो सकती है।

अधिक चावल खाने के जोखिम

क्या आप पीरियड्स के दौरान चावल खा सकती हैं पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q1: क्या पीरियड्स के दौरान चावल खाना ठीक है?

Ans: हां, आमतौर पर पीरियड्स के दौरान चावल खाना ठीक है। चावल ऊर्जा प्रदान कर सकता है और पचाने में आसान होता है, जिससे यह इस समय के दौरान एक अच्छा भोजन विकल्प बन जाता है।

Q2: पीरियड्स के दौरान आपको किन खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए?

उत्तर: ऐसा कोई विशिष्ट खाद्य पदार्थ नहीं है जिससे आपको पीरियड्स के दौरान बचना चाहिए, लेकिन कुछ महिलाओं को लग सकता है कि कुछ खाद्य पदार्थ, जैसे कि कैफीन या चीनी, गंभीर ऐंठन या मिजाज जैसे लक्षणों को बढ़ा सकते हैं।

Q3: क्या सफेद चावल मासिक धर्म के लिए खराब हैं?

Ans: जरूरी नहीं है कि सफेद चावल पीरियड्स के लिए खराब होते हैं, लेकिन इसमें ब्राउन राइस की तुलना में अधिक ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, जिसका अर्थ है कि यह रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ा सकता है और फिर क्रैश कर सकता है, जिससे थकान और चिड़चिड़ापन महसूस होता है।

ब्राउन राइस के बारे में तथ्य

Q4: क्या पीरियड्स के दौरान ब्राउन राइस अच्छे होते हैं?

उत्तर: हां, पीरियड्स के दौरान ब्राउन राइस एक अच्छा विकल्प है क्योंकि इसमें सफेद चावल की तुलना में फाइबर और पोषक तत्वों की मात्रा अधिक होती है। यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने और निरंतर ऊर्जा प्रदान करने में भी मदद कर सकता है।

Q5: क्या मैं पीरियड्स के दौरान मसालेदार खाना खा सकती हूँ?

उत्तर: हां, आप पीरियड्स के दौरान मसालेदार खाना खा सकती हैं, लेकिन कुछ महिलाओं को लग सकता है कि यह पेट फूलना या कब्ज जैसे पाचन संबंधी लक्षणों को बढ़ा देता है। अपने शरीर को सुनना और संयम में खाना एक अच्छा विचार है।

Q6: क्या मैं पीरियड्स के दौरान चॉकलेट खा सकती हूँ?

उत्तर: हां, आप पीरियड्स के दौरान चॉकलेट खा सकती हैं, लेकिन डार्क चॉकलेट चुनना सबसे अच्छा है, जिसमें दूध चॉकलेट की तुलना में चीनी कम और एंटीऑक्सीडेंट अधिक होता है। डार्क चॉकलेट मिजाज या क्रेविंग को कम करने में भी मदद कर सकती है।

निष्कर्ष

जब पीरियड्स के दौरान चावल को स्वस्थ आहार में शामिल करने की बात आती है, तो सही प्रकार के चावल का चयन करना और इसे कम मात्रा में खाना महत्वपूर्ण होता है। फाइबर की मात्रा अधिक होने और ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होने के कारण ब्राउन राइस सफेद चावल की तुलना में बेहतर विकल्प है। चावल को अन्य पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों के साथ संतुलित करना भी महत्वपूर्ण है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि शरीर को सभी आवश्यक पोषक तत्व मिल रहे हैं।

चावल के अलावा, और भी कई खाद्य पदार्थ हैं जो पीरियड्स के दौरान लाभ प्रदान कर सकते हैं, जैसे पत्तेदार साग, साबुत अनाज, लीन प्रोटीन और स्वस्थ वसा। एक संतुलित और पौष्टिक आहार खाकर, और अपने शरीर की ज़रूरतों को सुनकर, आप इस दौरान लक्षणों को कम करने और अपने समग्र स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं।

Back to blog

1 comment

Good feelings to know all about this product

Shaikh fahmeeda begum

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.